pramukh vansh aur unke sansthapak

aaj hum is post mai baat karenege pramukh vansh aur unke sansthapak ke bare mai, ye topic bahut hi important hai fine art students ke liye. to bhi exam ki tyari kar rahe hai woh inko jarur yaad kar le.

1 .हर्यक वंश -544 -412 ई. पु.
संस्थापक -बिम्बिसार (उपनाम -श्रेणिक )
राजधानी -राजगृह
अंतिम शासक -नागदशक

2 .शिशुनाग वंश 412 -344 ई. पू.
संस्थापक -शिशुनाग
राजधानी -वैशाली
अंतिम शासक -नन्दिवर्धन

3 .नन्द वंश -321 ई.पू
संस्थापक -महापदमनंद
राजधानी -पाटलीपुत्र
अंतिम शासक -घननन्द ( ग्रीक लेखकों ने घननंद को अग्रर्मीज कहा था )

4 .मौर्य वंश 321 .184 ई.पू
संस्थापक -चन्द्रगुप्त मौर्य
राजधानी -पाटलीपुत्र
अंतिम शासक-व्रहद्रथ
Maurya Vansh ke Sansthapak

5 .शुंग वंश 185.75 . ई.पू
संस्थापक -पुष्यामित्र शुंग
राजधानी -पाटलीपुत्र
अंतिम शासक-देवभूति

6 .कण्व वंश 75 .30 ई.पू
संस्थापक -वासुदेव/वसुमित्र
राजधानी -पाटलीपुत्र
अंतिम शासक-सुशर्मा

7 .सातवाहन वंश (तीसरी सदी)
संस्थापक -सिमुक
राजधानी -प्रतिस्ठान (गोदावरी नदी के तट पर पैठन )
अंतिम शासक-विजय कुन्तल
(इस काल में तांबे व काँसे के अतिरिक्त शीशे के सिक्के बहुत प्रचलित थे )

8 .गुप्त वंश (275 ई. के आस -पास )
संस्थापक -श्री गुप्त
राजधानी -पाटलीपुत्र
अंतिम शासक-विष्णु गुप्त तृतीय
गुप्त काल को भारतीय इतिहास का स्वर्ण युग कहा जाता है

pramukh vansh aur unke sansthapak

9 .हूण वंश (4 -6 सदी )
संस्थापक -तोरमाण
राजधानी -स्यालकोट
अंतिम शासक-गोपालदित्य हूण

10.सेन वंश
संस्थापक -सामन्त सेन (वास्तविक संस्थापक विजयसेन को माना जाता है )
राजधानी -लखनौती
अंतिम शासक-लक्ष्मण सेन (बंगाल का अंतिम हिन्दू शासक )

11 .परमार वंश
संस्थापक -उपेन्द्र राज (800 -818)
राजधानी -धार -मालवा /धारा नगरी(प्राम्भिक राजधानी -उज्जैन)
अंतिम शासक-संजीव सिंह परमार

12 .गढ़वाल वंश
संस्थापक -चन्द्रदेव
राजधानी -कन्नौज (कान्यकुब्ज )
अंतिम शासक-जयचंद्र (1170 -1193)

13 . गुर्जर प्रतिहार वंश
संस्थापक – हरीशचन्द्र
वास्तविक संस्थापक – नागभट्ट प्रथम
राजधानी -कन्नौज (कान्यकुब्ज )
अंतिम शासक – यशपाल

14 . राष्ट्रकूट वंश
संस्थापक -दन्तिदुर्ग
राजधानी – मनकिर / मान्यखेट
अंतिम शासक – कृष्ण प्रथम

15 .सैय्यद वंश (1414 – 1451 ई.)
संस्थापक -खिज्र खां
राजधानी – दिल्ली
अंतिम शासक -अलाउद्दीन आलम शाह

16 .लोदी वंश (1451 -1526 ई )
संस्थापक- बहलोल लोदी
राजधानी – दिल्ली
अंतिम शासक -इब्राहीम लोदी

17 .चोल वंश (9 -12 वी शदी )
संस्थापक- विजयालय
राजधानी – तजौर / तंजावुर
अंतिम शासक – राजेन्द्र तृतीय

18 .पांड्य वंश (अर्थ -प्राचिन या पुराना प्रदेश )
संस्थापक- नेडियोन ( अर्थ -लम्बा आदमी )
राजधानी – मदुरई
अंतिम शासक – राजसिम्हा तृतीय

19 .यादव वंश
संस्थापक- भिल्लभ
राजधानी – देवगीरी
अंतिम शासक – रामचंद्र

20 . होयसल वंश (1111 ई. के आसपास
संस्थापक- विष्णुवर्धन(विट्टीदेव ने अपना नाम बदलकर विष्णुवर्धन रखा था)
राजधानी – दारसमुंद्र
अंतिम शासक – नरसिंह

21 .कलचुरी वंश
संस्थापक- कोकल्ल प्रथम(845 मे सिंहासन पर बैठा )
राजधानी – त्रिपुरी
अंतिम शासक – सोढदेव

22 .सालुव वंश
संस्थापक- सालुव नरसिंह
राजधानी – विजय नगर
अंतिम शासक – इम्माडि नरसिंह

23 .तुलुव वंश
संस्थापक- वीर नरसिंह
राजधानी – विजय नगर
अंतिम शासक – सदाशिव राय

24 .सोलंकी वंश
संस्थापक- मूलराज प्रथम
राजधानी – अन्हिलवाड़
अंतिम शासक – भीम द्वितीय

25 . शर्की वंश
संस्थापक – मालिक सरवर (वास्तविक संस्थापक -ख्वाजा जहाँन
राजधानी – जौनपुर (उत्तर प्रदेश )

27 . पाल वंश
संस्थापक – गोपाल
राजधानी – मुंगेर
अंतिम शासक – गोविन्द पाल

28 . चौहान वंश
संस्थापक – वासुदेव
राजधानी – अजमेर
अंतिम शासक – पृथ्वीराज तृतीय

29 . गंग वंश
संस्थापक – कोकाणि वर्मा
राजधानी – तलकाड (प्राम्भिक राजधानी -कोलार )
अंतिम शासक – भानुदेव चतुर्थ

30 . कुषाण वंश
संस्थापक – कुजुल कडफिसस
राजधानी – पुरुष पुर
अंतिम शासक – वासुदेव

31 . वर्धन वंश
संस्थापक – पुष्यभूति
राजधानी – थानेश्वर (हर्ष ने कन्नौज को राजधानी बनाया )
अंतिम शासक – हर्षवर्धन (उपाधि-शिलादित्य )

32 . चंदेल वंश
संस्थापक – नन्नुक
राजधानी – खजुराहो (प्रारंभिक राजधानी -कालिंजर )
अंतिम शासक – परमाल /परमर्दिदेव

33 . पल्लव वंश
संस्थापक -सिंह वर्मन
राजधानी – कांचीपुरम
अंतिम शासक – अपराजित

34 . चालुक्य वंश
संस्थापक -जयसिंह
राजधानी – बदामी
अंतिम शासक – कीर्तिवर्मा द्धितीय

dosto ye tha humara chota sa article pramukh vansh aur unke sansthapak. main ummed karta hu ki aapko hamare ye post pasand aayegi. agar aapko pramukh vansh aur unke sansthapak ke bae mai kuch puchna hai to aap niche comment kar sakte hai.

Leave a Comment